June 16, 2024
Shane Warne

Shane Warne: कलाई के जादूगर का 52 साल की उम्र में निधन

Share on

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर Shane Warne का 52 साल की उम्र में निधन हो गया है। बताया जा रहा है कि उन्हें गंभीर दिल का दौरा पड़ा था जिससे वह उबर नहीं पाए। फॉक्स स्पोर्ट्स ने यह जानकारी दी है। इस खबर के सामने आने के बाद क्रिकेट और दूसरे सेक्टर से जुड़ी हस्तियों की ओर से शोक संवेदना का सिलसिला शुरू हो गया है.

इस महान क्रिकेटर को कलाई का जादूगर कहा जाता था। शेन वॉर्न की एक गेंद, जिस पर उन्होंने इंग्लैंड के माइक गैटिंग को बोल्ड किया था, इतिहास की सर्वश्रेष्ठ गेंद घोषित की गई।

दरअसल 1993 में एशेज श्रृंखला के दौरान Shane Warne मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड में माइक गैटिंग के खिलाफ गेंदबाजी कर रहे थे। उन्होंने एक ऐसी गेंद फेंकी जो लेग स्टंप के बाहर थी, लेकिन वह इतनी स्पिन हुई कि विकेट से हिट हो गई। इस गेंद के बाद वारेन विश्व प्रसिद्ध हो गए। वारेन ने अपने 145 मैचों के टेस्ट करियर में 708 विकेट लिए, जो मुथैया मुरली धरन (800 विकेट) के बाद टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक है।

Bhagalpur Blast: भागलपुर में देर रात ज़ोरदार धमाका, अब तक 7 की मौत 10 घायल

शेन वॉर्न के मैनेजमेंट की तरफ से फॉक्स न्यूज को दिए एक बयान के मुताबिक़ थाईलैंड में दिल का दौरा पड़ने से उनकी मृत्यु हो गई। बयान में कहा गया है कि ”Shane Warne अपने विला में बेहोश पाए गए थे और तमाम कोशिशों के बावजूद उन्हें होश में नहीं लाया जा सका. उन्होंने आगे कहा कि परिवार इस वक़्त बोलने की हालत में नहीं है, इस खबर से सब सदमे में हैं.

शेन वॉर्न ने 1992 में सिडनी में भारत के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया था और फिर अगले साल मार्च में वेलिंगटन में न्यूजीलैंड के खिलाफ एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में डेब्यू किया था।

विजडन के शतक के पांच क्रिकेटरों में से एक चुने गए थे, शेन वॉर्न ने अपने एकदिवसीय करियर का अंत 293 विकेट के साथ किया। ऑस्ट्रेलियता को साल 1999 का वनडे क्रिकेट वर्ल्ड कप जिताने में भी उनकी महत्वपूर्ण भूमिका थी।

महिला क्रिकेट वर्ल्ड कप: 4 मार्च को न्यूजीलैंड-वेस्टइंडीज के मुक़ाबले से होगा आगाज़