June 19, 2024
deep siddhu

deep siddhu का शव लेकर परिजन पंजाब रवाना, समर्थकों ने एंबुलेस पर बरसाए फूल

Share on

पुलिस ने तीन डॉक्टरों के बोर्ड से मशहूर पंजाबी गायक व कलाकार संदीप उर्फ deep siddhu के शव का पोस्टमार्टम कराया। पुलिस ने पोस्टमार्टम की पूरी वीडियोग्राफी भी की है। उनके भाई के बयान पर पुलिस ने ट्राला चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

पोस्टमार्टम होने के बाद, दीप सिद्धू का शव उनके परिजनों को सौंप दिया गया है। पोस्टमार्टम के दौरान दो डीएसपी भी मौजूद रहे। deep siddhu के शव को लेकर उनके परिजन व समर्थक पंजाब रवाना हो गए हैं। उनके शव को पंजाब के लुधियाना ले जाया जाएगा। दीप सिद्धू के समर्थकों ने एंबुलेस पर फूल बरसाए।

पोस्मार्टम करने वाले मेडिकल बोर्ड में डॉ. पंकज केसवानी, डॉ. राजेश सिंह व डॉ. भानू शामिल हैं। पोस्टमार्टम की पूरी प्रक्रिया के दौरान वीडियोग्राफी की गई।

सोनीपत के एसएसपी राहुल शर्मा ने कहा, कि “यह लापरवाही से वाहन चलाने का मामला है। एफआईआर दर्ज की गई है। चालक की पहचान कर ली गई है, टीमें उसे पकड़ने की कोशिश कर रही हैं। हमें दीप सिद्धू की कार से आंशिक रूप से पी गई शराब की बोतल मिली है। विसरा नमूना एकत्र कर लिया गया है। एफएसएल रिपोर्ट के विश्लेषण के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।”

रीना राय को उनके परिजन दूसरे अस्पताल ले गए

हादसे में घायल उनकी मंगेतर रीना राय को उनके परिजन किसी दूसरे अस्पताल ले गए हैं। दिल्ली में 26 जनवरी 2021 को लाल किले पर धार्मिक झंडा फहराने के बाद सुर्खियों में आए पंजाबी कलाकार संदीप उर्फ दीप सिद्धू की मंगलवार रात को केएमपी पर हादसे में मौत हो गई थी। वह मंगलवार रात स्कॉर्पियो गाड़ी में सवार होकर अपनी अमेरिका निवासी मंगेतर रीना राय के साथ दिल्ली से पंजाब जा रहे थे।

मुक्तसर में हुआ था जन्म
संदीप उर्फ दीप सिद्धू का जन्म पंजाब के मुक्तसर जिले में अप्रैल 1984 को हुआ था. उनके करियर की शुरुआत मॉडलिंग से हुई थी। दीप सिद्धू ने क़ानून की पढ़ाई की थी। दीप सिद्धू किंगफिशर मॉडल हंट के विजेता रहे। उन्होंने मिस्टर इंडिया कॉन्टेस्ट में मिस्टर पर्सनालिटी का खिताब भी जीता था। उनकी पहली पंजाबी फिल्म ‘रमता जोगी’ साल 2015 में रिलीज हुई थी। लेकिन दीप सिद्धू मशहूर हुए, साल 2018 में आई फिल्म ‘जोरा दास नंबरिया’ से, इस फिल्म में उनका किरदार गैंगस्टर का था।

लाल किले पर धार्मिक झंडा फहराया था

deep siddhu तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसान आंदोलन की वजह से चर्चा में आए थे। लाल किले पर धार्मिक झंडा फहराने और हिंसा के केस में भी उन्हें आरोपी बनाया गया था। दीप सिद्धू की इस केस में गिरफ्तारी भी हुई थी। लेकिन बाद में उन्हें जमानत मिल गई थी।

दीप सिद्धू के शव को लेकर उनके परिजन पंजाब रवाना, समर्थकों ने एंबुलेस पर बरसाए फूल