June 13, 2024
Election Result

Election Result: यूपी में हम जनमत को सीटों में नहीं बदल सके, कांग्रेस

Share on

Election Result: पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के अंतिम परिणाम अभी जारी नहीं हुए हैं, लेकिन पंजाब में आम आदमी पार्टी और उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा में भाजपा की सरकार बनना तय है। जो नतीजे सामने आ रहे हैं उनमें कांग्रेस का प्रदर्शन बेहद खराब है. इस संबंध में कांग्रेस का बयान सामने आया है। पार्टी ने पांच राज्यों में जीतने वाले सभी राजनीतिक दलों और व्यक्तियों को बधाई दी है और कहा है कि लोकतंत्र में लोगों का निर्णय सर्वोपरि है और यही हमारे लोकतंत्र की ताकत है.

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस के प्रदर्शन को उम्मीदों के विपरीत बताया. उन्होंने कहा, “Election Result कांग्रेस पार्टी की उम्मीदों के विपरीत रहे हैं।” हम उत्तराखंड, गोवा और पंजाब में अच्छे नतीजों की उम्मीद कर रहे थे। लेकिन हम मानते हैं कि हम लोगों का आशीर्वाद लेने में नाकाम रहे हैं।”

रणदीप सुरजेवाला ने आगे कहा, कि पंजाब में चरणजीत सिंह चन्नीजी के रूप में हमने एक विनम्र, सादा और ज़मीन से जुड़ा नेतृत्व देने की कोशिश की, लेकिन हम अमरिंदर सरकार की साढ़े चार साल की सरकार विरोधी लहर से बाहर नहीं निकल सके। जनता ने बदलाव के लिए वोट किया। हम लोगों के आदेश को स्वीकार करते हैं और पंजाब में आम आदमी पार्टी को जीत के लिए बधाई देते हैं।

दिल्ली नगर निगम चुनाव स्थगित होने पर ‘आप’ नाराज,

उत्तर प्रदेश Election Result को लेकर कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, ‘उत्तर प्रदेश में हम कांग्रेस को पुनर्जीवित करने में सफल रहे हैं. हम जनता की राय को सीटों में नहीं बदल पाए हैं, लेकिन कांग्रेस पार्टी राज्य के हर गली-नुक्कड़ तक पहुंचने में कामयाब रही है. हमने उत्तराखंड और गोवा में बेहतर तरीके से चुनाव लड़ा लेकिन लोगों का दिल जीतकर जीत के आंकड़े तक नहीं पहुंच सके. यह एक सबक है कि हमें ज़मीन पर और कड़ी मेहनत करने की जरूरत है।”

रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए यह भी कहा, कि “हमने चुनाव को जाति और धार्मिक ध्रुवीकरण जैसे मुद्दों से दूर रखने के लिए हर संभव प्रयास किया है, लेकिन भाजपा की बड़े पैमाने पर विज्ञापनों की वजह से शिक्षा, स्वास्थ्य, महंगाई और बेरोजगारी जैसे मुद्दों पर भावनात्मक मुद्दे हावी हो गए.”

कांग्रेस प्रवक्ता ने आगे कहा, “हम चुनाव जीतें या हारें, कांग्रेस पार्टी हमेशा लोगों के साथ खड़ी रहेगी। हम लोगों के मुद्दों, महंगाई, बेरोजगारी, डूबती अर्थव्यवस्था जैसे मुद्दों को उसी जिम्मेदारी के साथ उठाते रहेंगे। हम हार के कारणों पर गौर करेंगे और संगठन को मजबूत करने के लिए काम करेंगे। हम चुनाव नतीजों से निराश ज़रूर हैं, लेकिन हताश नहीं हैं। हम सिर्फ चुनाव हारे हैं, हिम्मत नहीं। हम कहीं नहीं जा रहे हैं, हम तब तक लड़ते रहेंगे जब तक हम जीत नहीं जाते। हम बदलाव और नई नीति के साथ फिर लौटेंगे।”