June 13, 2024
सातवा चरण

सातवा चरण: उत्तर प्रदेश चुनावी दंगल के आखिरी चरण में 613 उम्मीदवार मैदान में

Share on

उत्तर प्रदेश के चुनावी दंगल का आज सातवा चरण है और लोगों ने इसके लिए वोट डालना शुरू कर दिया है. इस चरण में 2 करोड़ 6 लाख मतदाता 9 जिलों की 54 सीटों पर 613 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे. गौरतलब है कि इस चरण में 7 मंत्रियों की साख दांव पर लगी है। सातवें चरण में वाराणसी, चंदोली, भदोही, मिर्जापुर, रॉबर्ट्स गंज, गाजीपुर, मऊ, आजमगढ़ और जौनपुर जिले की 54 विधानसभा सीटों पर 613 उम्मीदवार मैदान में हैं.

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन दिनों तक अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में रहे और पार्टी के लिए वोट मांगे. इस दौरान नरेंद्र मोदी ने रोड शो भी किया और लोगों से मुलाकात भी की.

सातवा चरण में मतदान से पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर कहा, “उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव-2022 का आज अंतिम चरण है। सभी सम्मानित मतदाता गण राष्ट्रवाद, विकास और सुशासन की विजय के लिए मतदान अवश्य करें। आपका एक वोट माफियावादियों, दंगावादियों और घोर परिवारवादियों से आपके प्रदेश को बचाएगा।
अतः पहले मतदान करें फिर जलपान करें।।”

2017 के विधानसभा चुनाव के सातवें चरण में बीजेपी और उसके सहयोगी अपना दल (एस) और सोहेल देव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) ने 54 में से 36 सीटों पर जीत हासिल की थी। इनमें से बीजेपी को 29, अपना दल (एस) को चार और सोहेल देव भारतीय समाज पार्टी को तीन सीटें मिली थी. वहीं सपा को 11, बसपा को छह और निषाद पार्टी को एक सीट मिली थी. निषाद पार्टी, जो 2017 में अपने दम पर लड़ी थी, इस बार भाजपा के साथ गठबंधन में है, जबकि सोहेल देव भारतीय समाज पार्टी ने सपा के साथ गठबंधन किया है।

एनआरसी आंदोलन में शामिल अनीस खान के बाद, पश्चिम बंगाल में एक और मुस्लिम युवक की हत्या

सातवा चरण प्रमुख प्रतिद्वंद्वियों में यूपी के मंत्री नील कंठ तिवारी, अनिल राजभर, रविंदर जायसवाल, ग्रिश यादव और राम शंकर सिंह पटेल की क़िस्मत का भी फैसला करेगा। योगी आदित्यनाथ की कैबिनेट से इस्तीफा देकर समाजवादी पार्टी में शामिल हुए दारा सिंह चौहान भी मऊ की घोसी सीट से चुनाव लड़ रहे हैं.

इस चरण में, भाजपा ने पार्टी के चुनाव चिन्ह पर 54 सीटों में से 48 उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है, जबकि उसके सहयोगी अपना दल (एस) और निषाद पार्टी ने 3-3 उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है। दूसरी ओर, समाजवादी पार्टी ने अपने चुनाव चिह्न पर 45 उम्मीदवार उतारे हैं, जबकि उसके सहयोगी एसबीएसपी ने सात उम्मीदवार और अपना दल (के) ने दो उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह और अमित शाह ने 2017 की सफलता की कहानी को दोहराने के लिए पूर्वांचल में बड़े पैमाने पर प्रचार किया है.