June 24, 2024
सपा-भाजपा समर्थकों में मारपीट

सपा-भाजपा समर्थकों में मारपीट, उड़नदस्ता टीम का कैमरामैन भी घायल

Share on

रविवार को कैलादेवी थाना क्षेत्र के गांव खिरनी में सपा-भाजपा समर्थकों में मारपीट हो गई। इस दौरान कैमरामैन और उड़नदस्ता टीम में शामिल दो सिपाही घायल हो गए। वहीं समजवादी और भाजपा समर्थकों को भी चोट लगी है। सूचना मिलते ही सीओ और अपर पुलिस अधीक्षक मौके पर पहुंचे। दोनों पक्षों ने एक दुसरे पर आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

उड़नदस्ता की टीम रविवार की रात गांव खिरनी में चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान भाजपा प्रत्याशी हरेंद्र कुमार और उनके समर्थकों की गाड़ी को रोककर चेकिंग की गई। चेकिंग के दौरान पीछे से अन्य गाड़ियों से आए समाजवादी कार्यकर्ताओं ने भाजपा प्रत्याशी पर शराब और पैसे बांटने का आरोप लगाया। इस बात पर कहासुनी हुई और विवाद बढ़ गया। इस दौरान भाजपा प्रत्याशी के समर्थक नखासा थाना क्षेत्र के गांव भडवाड़ा के रहने वाले राहुल की गाड़ी का शीशा टूट गया। जिसके नतीजे में सपा-भाजपा समर्थकों में मारपीट हुई।

ग्रामीणों के मुताबिक़ खिरनी पुलिस चौकी में घुसकर भी मारपीट हुई है। बीचबचाव करने के लिए आए उड़नदस्ता टीम में शामिल दो सिपाही चोटिल हो गए. इस दौरान उड़नदस्ता टीम का कैमरामैन भी घायल हो गया और उनका कैमरा भी टूट गया। सपा-भाजपा समर्थकों में मारपीट होने की सूचना मिलने पर अपर पुलिस अधीक्षक आलोक कुमार जायसवाल और सीओ जितेंद्र सिंह हयातनगर थाने की पुलिस लेकर मौके पर पहुंच गए। दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप किया है।

भाजपा प्रत्याशी के समर्थक ने तहरीर पर पुलिस ने दो सपाइयों को हिरासत में ले लिया है। सपा प्रत्याशी पिंकी यादव का कहना है कि उन्होंने भी समर्थकों की ओर से तहरीर दिलवाई है। भाजपा प्रत्याशी ने आरोप लगाया है कि सपा प्रत्याशी के पति और उनके साथियों ने मारपीट की है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

बिजनौर में धूप खिल रही है, लेकिन भाजपा का मौसम खराब: जयंत चौधरी

पुलिस के सामने ही मारपीट करते हुए पुलिस चौकी में घुस गए

सपा-भाजपा समर्थकों में मारपीट खिरनी पुलिस चौकी के पास हुई है। शोरशराबा होने पर ही पुलिसकर्मी मौके पर पहुंच गए थे। इस दौरान दोनों पक्षों में जमकर मारपीट हुई, मारपीट करते हुए दोनों पक्ष पुलिस चौकी में घुस गए। चुनाव से एक दिन पहले हुई इस मारपीट से पुलिस और प्रशासन
की चिंताएं बढ़ गई है।

असमोली विधानसभा सीट से भाजपा के प्रत्याशी हरेंद्र कुमार ने कहा कि “मेरे ऊपर हमला नहीं हुआ है। मेरे समर्थक की गाड़ी का शीशा तोड़ा है और सपाइयों ने मारपीट की है। पुलिस को तहरीर दे दी गई है। कार्रवाई की जा रही है। सपा प्रत्याशी के पति भी इस मारपीट में शामिल थे। उन्हीं ने यह विवाद कराया है।”

सपा प्रत्याशी के पति प्रमोद यादव ने कहा है कि “भाजपा प्रत्याशी गांव-गांव जाकर शराब और पैसे बांट रहे थे। इसकी जानकारी कार्यकर्ताओं ने मुझे दी थी। इसी जानकारी को मेरे द्वारा उड़नदस्ता टीम को दिया गया। लेकिन उड़नदस्ता टीम को भाजपा प्रत्याशी और उनके समर्थक मिल नहीं सके। बाद में चेकिंग हो रही थी तो हमारे समर्थकों के साथ मारपीट की गई। मेरे ऊपर आरोप गलत लगा रहे हैं। मैं तो शनिवार से मुरादाबाद आया हुआ हूं। कैमरों में सबूत हैं।”

असमोली विधानसभा सीट से सपा प्रत्याशी पिंकी यादव का कहना है कि “हमारे समर्थकों के साथ भाजपा के लोगों ने मारपीट की है। वह शराब और पैसे बांट रहे थे। इसका विरोध हमारे कार्यकर्ताओं ने किया था। सवाल यह है कि जब प्रचार थम गया तो वह पांच गाड़ी से कैसे घूम रहे हैं।”

उड़नदस्ता टीम के प्रभारी राम लखन यादव ने कहा है कि “शराब और पैसे बांटने की सूचना मिली थी। भाजपा प्रत्याशी की गाड़ी की चेकिंग की थी लेकिन कुछ मिला नहीं था। इसी दौरान कुछ और लोग आ गए और भाजपा प्रत्याशी और उनके बीच विवाद हो गया। मेरी सुरक्षा में लगे दो सिपाही बीचबचाव के दौरान चोटिल हुए हैं। कैमरामैन को भी चोट लगी है और कैमरा टूटा है।”

संभल क्षेत्र के पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्र का कहना है कि “असमोली विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी हरेंद्र कुमार को सपा समर्थकों के द्वारा घेरने की सूचना पुलिस को मिली थी। इस दौरान सपा समर्थकों से प्रत्याशी की धक्का-मुक्की और हाथापाई का प्रयास किया गया। प्रत्याशी को पुलिस ने सुरक्षित निकालते हुए पुलिस चौकी में बैठा दिया। कुछ पुलिस कर्मियों को खरोंच आई है। मौके से दो सपाई हिरासत में लिए गए। अन्य लोग भाग गए। जिनकी तलाश की जा रही है।”