June 13, 2024
रूस-यूक्रेन जंग

रूस-यूक्रेन जंग:रूस के साथ युद्ध में उनका देश अकेला रह गया है, यूक्रेन के राष्ट्रपति

Share on

यूक्रेन के राष्ट्रपति व्लादिमीर ज़ेलेंस्की के अनुसार, रूस-यूक्रेन जंग के पहले दिन 137 लोग मारे गए थे। ज़ेलेंस्की ने एक वीडियो में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा, “आज हमने अपने 137 नायकों, अपने नागरिकों को खो दिया है।” जबकि 316 लोग घायल हो गए। इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि इस युद्ध में उन्हें किसी का कोई समर्थन नहीं मिला।

राष्ट्रपति व्लादिमीर ज़ेलेंस्की ने कहा कि रूस-यूक्रेन जंग में उनका देश अकेला रह गया है। उन्होंने कहा कि “लड़ने के लिए हमारे साथ कौन खड़ा है? मुझे कोई नहीं दिख रहा है। यूक्रेन को नाटो सदस्यता की गारंटी देने के लिए कौन तैयार है? हर कोई डरा हुआ है.”

रूस-यूक्रेन युद्ध: नाटो का रूस के खिलाफ सख्त क़दम 100 युद्ध विमान किये तैनात

अपने वीडियो संदेश में, राष्ट्रपति व्लादिमीर ज़ेलेंस्की ने राजधानी कीव में रहने वाले नागरिकों से सतर्क रहने का भी आग्रह किया। उन्होंने कहा कि रूसी ग्रुप राजधानी कीव में दाख़िल हो चुके हैं। ऐसे में शहर के नागरिक सतर्क रहें और कर्फ्यू का पालन करें। राष्ट्रपति ने यह भी कहा कि रूस की हिट लिस्ट में नंबर एक पर होने के बावजूद वह और उनका परिवार यूक्रेन में ही रहेगा.

ध्यान रहे कि रूस ने हमले के पहले दिन यूक्रेन के 70 से अधिक सैन्य ठिकानों को नष्ट करने का दावा किया है। इस हमले की वजह से यूक्रेन के लोग अपना घर छोड़ कर दूसरी जगह जाने के लिए मजबूर हो गए हैं। रूस ने कल अपनी पूरी सैन्य शक्ति के साथ यूक्रेन पर हमला किया है।

ब्रिटेन और अमेरिका समेत कई देशों ने हमले की निंदा की है और गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी है। हालांकि, हमले और प्रतिबंधों की अंतरराष्ट्रीय निंदा की अनदेखी करते हुए, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने सीधे तौर पर नाटो और अमेरिका को चेतावनी देते हुए कहा है, कि रूसी ऑपरेशन में हस्तक्षेप करने के किसी भी प्रयास के ऐसे परिणाम होंगे जो पहले कभी नहीं देखे गए हैं!